Tuesday, December 11ਤੁਹਾਡੀ ਆਪਣੀ ਲੋਕਲ ਅਖ਼ਬਾਰ....

कृष्ण सुदामा की मित्रता एक अनूठी मिसाल है: संत विज्ञानानंद जी 

करतारपुर मेल (शिव कुमार राजू) >> गौशाला प्रबंधक कमेटी द्वारा आयोजित गौशाला मंदिर में बने गौभक्त सावन मल्ल हाल में श्रीमद भागवत कथा ज्ञान यज्ञ सप्ताह के सातवें दिन संत शिरोमणि श्री श्री 1008 महामंडलेश्वर (अखिल भारतीय निरंजनी अखाडा) स्वामी विज्ञानानंद जी सरस्वती कनखल हरिद्वार वालों ने श्री कृष्ण जी के परम् मित्र सुदामा जी का प्रसंग सुनकर सभी को भाव विभोर कर दिया।
स्वामी जी ने कहा कि भक्त सुदामा श्री कृष्ण के प्रिय मित्र थे। जीवन की कठिनाई भरी परिस्थितियों में भी वह गोविन्द चरणों का आश्रय अपने हृदय में धारण किया करते थे। इस अवसर पर श्रीमद भगवत गीता ज्ञान यज्ञ का समापन बड़ी ही श्रद्धापूर्वक आरती कर किया गया व श्रद्धालुओं में प्रसाद बांटा गया।
इस मौके प्रधान बलराम गुप्ता, मास्टर विजय शर्मा, डा. यश गुप्ता, श्याम सुंदर पटवारी, बाल किशन धीमान, बनमालीकांत, डा. नरिंदर गुप्ता, राजेश शर्मा, रमेश शर्मा, भारत भूषण शर्मा, बचन सिंह, अयोध्यानाथ, प्रदीप शर्मा, रघुवीर विनायक, मैडम शांता अग्रवाल, मैडम कमला जी, मुनीश सेठ, दीपक दीपा, राजन शर्मा, दीपक शर्मा, रजिंदर शर्मा, सुरदर्शन ओहरी, मनोहर लाल, पंडित वेद प्रकाश, पंडित जय प्रकाश, पंडित प्रभु नाथ, पंडित वरिंदर कुमार, हरिकेश शास्त्री, हरिहर ब्रह्मचरी, सुरिंदर सिंह, आरती गुप्ता, कमला अग्रवाल, पूनम गुप्ता, उमा शर्मा, पूनम गौतम, ऋतू गौतम, नीलम रानी, राज रानी, रेनू भरद्वाज, चंद रानी धीमान, सुनीता रानी, सुधा रानी, वीणा रानी, संगीता रानी, मा. अमरीक सिंह, ॐ प्रकाश, लता सिंगला सहित असंख्य भक्तजन मौजूद थे।

Welcome to

Kartarpur Mail

error: Content is protected !!